TCP/IP MODEL IN HINDI

TCP/IP की full form ट्रांसमिशन कंट्रोल प्रोटोकोल(Transmission Control Protocol/) तथा इंटरनेट प्रोटोकोल(Internet Protocol) होता है |TCP/IP प्रोटोकोल एक language है जो कंप्यूटर को internet से access  करने के लिए use किया जाता है |

TCP/IP Protocol  दो दो से अधिक अलग अलग कंप्यूटर को long distance तक communicate करवाने के लिए allow करता है  तथा इसका use data को realiable तरीके से भेजने के लिए किया जाता है |

TCP और IP  दो अलग अलग protocol है | TCP का काम किसी भी network  में data या मैसेज को छोटे-छोटे packets में divide करना   और उसे corresponding TCP layer मैं transmit करना है तथा IP का काम किसी भी network  में इन data packets को एक unique ip address assign कराना है |

TCP/IP model  किसी भी network  में end to end communication provide  कराता है |

TCP/IP  को us military(department of defense)  ने 1970 से 1980 के मध्य develop किया था |

  • TCP/IP  की मुख्य 4 layer  होती है |
  1. Process/Application Layer
  2. Host-to-Host/Transport Layer
  3. Internet Layer
  4. Network Access/Link Layer

1. Application layer- यह layer OSI MODEL   की top 3 layers के functions perform करती है | यह  node to node या अलग अलग system के बीच communication करवाने के लिए responsible  होती है | यह layer systems के मध्य applications का interaction, data translation और  encoding और diologue control, communication करवाने के लिए जिम्मेदार होती है | HTTP( Hypertext transfer protocol.), HTTPS(HTTP-Secure), FTP, TFTP, Telnet, SSH, SMTP, SNMP, NTP, DNS, DHCP, NFS    यह कुछ protocols है जो इस layer में present है |

2. Host-to-Host/Transport Layer- यह layer  किसी भी network end- to- end(source host to destination host) communication तथा error free data  send करने के लिए responsible होती है | message segmentation, acknowledgement, traffic control, session multiplexing, error detection and correction (resends) इसके कुछ function  है |

  • Transport layer  के 2 protocol होते हैं TCP(Transport Control Protocol ) और UPD(User Datagram Protocol ), TCP  एक connection oriented protocol है इसमें user और receiver के बीच एक connection establish होता है  तथा UDP एक connection-less protocol है इसमें data transfer करने के दौरान कोई भी connection establish नहीं किया जाता है |

3.Internet Layer-यह  layer source से destination तक data को transfer  करने के लिए responsible होता है internet layer data को transport layer से accept  करता है तथा इसे network interface layer में pass कर देता है |

यह data को correct destination के लिए route  करता है तथा जब एक से अधिक route available होते हैं तो यह layer data  को shortest route से भेजने के लिए जिम्मेदार होता है |

Internet Protocol (IP) ,Internet Control Message Protocol (ICMP) ,address resolution protocol(ARP) यह कुछ protocols  जो इस layer में operate होते हैं |

4. Network Access/Link Layer- यह layer अलग अलग nodes  के बीच data को transfer करने के लिए एक logical path set करती है | यह layer कुछ hardware devices  contain करती है जैसे routers, bridges, firewalls और switches, लेकिन actually ये efficient communication route  की एक logical image create करती है और इसको physical medium से implement कर देती है | Internet Protocol and Netware IPX/SPX  यह कुछ इससे जुड़े protocols हैं |

1 thought on “TCP/IP MODEL IN HINDI”

Leave a Comment

Show Buttons
Hide Buttons